Monthly Archives: May 2018

एसडबल्यूए वार्तालाप – वरुण ग्रोवर के साथ!

अपने सदस्यों के लिए ज्ञानवर्धक वर्कशॉप्स और कार्यक्रम आयोजित करना, तथा इसके ज़रिए पेशेवर स्क्रीनराइटिंग और लिरिक्स राइटिंग को बढ़ावा देना एसडबल्यूए के मूलभूत उद्देश्यों में से एक है। इसी ध्येय के साथ कार्यक्रमों की एक नयी शृंखला की शुरुआत की गयी है जिसका नाम है ‘एसडबल्यूए वार्तालाप’।

एसडबल्यूए वार्तालाप की कोशिश है कि सफलता के पायदान चढ़ते स्क्रीनराइटर्स-गीतकारों और उन्हीं की बिरादरी के संघर्षरत लेखकों को आपसी संवाद स्थापित करने हेतु एक मंच प्रदान किया जाए। इससे ना सिर्फ़ प्रतिभाशाली लेखकों के हुनर को सराहना और स्वीकार्यता मिलेगी, बल्कि युवा लेखकों को भी प्रोत्साहन मिलेगा कि वे भी सफल लेखकों के अनुभवों से सीख लेकर आगे बढें।

पहले एसडबल्यूए वार्तालाप का आयोजन 14 अप्रैल, 2018 को एसडबल्यूए के अंधेरी वैस्ट स्थित दफ़्तर पर हुआ। इसमें अतिथि थें उभरते हुए स्क्रीनराइटर हितेश केवल्या, जिनकी लिखी फ़िल्म ‘शुभ मंगल सावधान’ ना सिर्फ़ दर्शकों द्वारा सराही गयी थी, बल्कि समीक्षकों ने भी इसकी स्क्रिप्ट की ख़ासी तारीफ़ की थी। आयुष्मान खुराना और भूमि पेंढनेकर अभिनीत यह फ़िल्म 2017 की ‘स्लीपर हिट’ साबित हुई और इसके चुटीले संवादों ने दर्शकों को लोटपोट पर होने पर मजबूर कर दिया। हितेश की लिखी स्क्रिप्ट ने किस क़दर लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा इसका अंदाज़ा इस बात से भी लगता है कि एसडबल्यूए वार्तालाप के दौरान उन्हें सुनने के लिए उम्मीद से ज़्यादा लोग उमड़ पड़े और दफ़्तर का कॉनफ़्रेंस हॉल छोटा पड़ गया। यहाँ तक कि कार्यक्रम के बाद, एसडबल्यूए सदस्यों में हितेश केवल्या के साथ ‘सेल्फ़ी’ लेने की होड़ भी मच गयी!

IMG-1653 IMG-1654

इसी कड़ी में अगले एसडबल्यूए वार्तालाप का आयोजन 12 मई 2018 (शनिवार) को किया जाएगा। लेखक-सदस्यों के अप्रत्याशित उत्साह को देखते हुए, इस बार दफ़्तर के बाहर एक बड़े कार्यक्रम-स्थल का चयन किया गया है। मेहमान होंगे जाने-माने गीतकार वरुण ग्रोवर! हालाँकि, सिर्फ़ एक शब्द ‘गीतकार’ के इस्तेमाल से वरुण की प्रतिभा के साथ न्याय नहीं होता है। वे धारदार व्यंग्य के माहिर स्टैंड-अप कॉमेडियन भी रहे हैं, और फ़िल्म समारोहों में भरपूर सराही गयी फ़िल्म ‘मसान’ के स्क्रीनराईटर भी हैं। ‘ये मोह मोह के धागे’, ‘ओ वुमनिया’, ‘मन कस्तूरी रे’ जैसे उनके लिखे गीतों का स्टाइल तो अलग है ही, साथ ही साथ उन्हें एक गहन सोच रखने वाला जागरूक कलाकार भी माना जाता है। हाल ही में वरुण ग्रोवर नैटफ़्लिक्स की सैफ़ अली खान और नवाज़ुद्दीन सिद्दिक़ी अभिनीत बड़े बजट की वैबसीरीज़ ‘सेक्रिड गेम्स’ के राइटर्स-रूम का भी हिस्सा रहे हैं। इस कार्यक्रम में एक बड़ी तादाद में युवा लेखकों का आना अपेक्षित है।Moh-Moh-Ke-Dhaage-Promo-Song-Dum-Laga-Ke-HaishaSacred Games Varun Grover1

‘एसडबल्यूए वार्तालाप – वरुण ग्रोवर के साथ’ कार्यक्रम से जुड़ी बाक़ी जानकारियाँ इस प्रकार हैं –

दिनांक: 12 मई, 2018 (शनिवार)   समय: सायं 05:00 बजे

कार्यक्रम स्थल: आइसीएसई हॉल, 4थीं मंज़िल, भक्तिवेदांत स्वामी मिशन स्कूल, लोखंडवाला कॉम्पलेक्स, शास्त्री नगर, लक्ष्मी इंडस्ट्रियल एस्टेट के पास, अंधेरी वैस्ट, मुंबई (महाराष्ट्र)

– टीम एसडबल्यूए